डीएम की सन्नद्धता कोरोना का काल कम करने में सहायक

कौटिल्य वार्ता
By -
0

बस्ती,उत्तर प्रदेश


जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन तथा पुलिस अधीक्षक हेमराज मीना ने किसान डिग्री कालेज, रेलवे स्टेशन पहुंचकर प्रवासी मजदूरां का हालचाल लिया। उन्होंने सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन करते हुए नियमित रूप से मॉस्क लगाने के लिए प्रेरित किया। किसान डिग्री कालेज में आये हुए प्रवासी मजदूरों का थर्मल स्क्रीनिंग कराया जा रहा था। साथ ही उन्हें 10 किलो चावल, 10 किलो आटा, तेल, मसाला, चना, दाल आदि का खाद्यान्न किट भी वितरित किया जा रहा था। यहां पर व्यवस्थाओं के बारे में तहसीलदार पवन जायसवाल ने जिलाधिकारी को आवश्यक जानकारी दिया।
जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि अम्बेडकर नगर की तरफ से आने वाले लोगों की जांच के लिए फुटहिया ओवर ब्रिज के पास ही बैरियर लगाने, डाटाबेस तैयार के लिए कम्प्यूटर आपरेटर तथा मेडिकल टीम लगाकर जांच की आवश्यक व्यवस्था किया जाए। वहां भी थर्मल स्क्रीनिंग करायी जाय। प्रयास यह होना चाहिए कि बिना जांच के कोई भी व्यक्ति सीधे गांव में न पहुंचे। यदि गांव में पहुंचता है तो निगरानी समिति तत्काल इसकी सूचना सम्बन्धित तहसील को उपलब्ध कराये।
यहां पर डा0 आशुतोष चौधरी के नेतृत्व में फार्मासिस्ट प्रवीन विश्वास, स्टॉफ नर्स शशि, पायल एवं बृजेश सोनी, कृष्ण कुमार आदि प्रवासी मजदूरों का थर्मल स्क्रीनिंग कर रहे थे।


रेलवे स्टेंशन पर आने वाले प्रवासी मजदूरों का डाटा बेस तैयार करने, उनका थर्मल स्क्रीनिंग करने, भोजन पानी की व्यवस्था करने सम्बन्धित व्यवस्थाओं में जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने निरीक्षण किया। यहां पर डाटा बेस तैयार करने के लिए कम्प्यूटर के साथ कम्प्यूटर आपरेटर की तैनाती की गयी है। थर्मल स्क्रीनिंग के लिए मेडिकल टीम लगायी गयी है। पीने के पानी की व्यवस्था के लिए रेडक्रास सोसायटी के सचिव सरदार कुलविन्दर सिंह एवं उनके स्वयंसेवकों द्वारा टॉफी के साथ व्यवस्था की गयी है। जिलाधिकारी ने इन कार्यों में लगे सभी कर्मचारियों को मॉस्क एवं सेनिटाइजर उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।

Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)