दाह संस्कार के बाद गांव मे पीएसी तैनात

कौटिल्य वार्ता
By -
0

 
12  घंटे बाद अंतिम संस्कार , पीएसी तैनात

’जौनपुर’ जिले के सरपतहां थाना क्षेत्र के सारी जहाँगीरपट्टी गांव में पांच दिन पहले बच्चों बच्चों के आपसी विवाद को लेकर हुई मारपीट के दौरान घायल किशोर की मौत के मामले में शनिवार को पुलिस द्वारा आरोपियों की गिरफ्तारी व आरोपियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करने की मांग को लेकर मृतक के परिजनों ने लाश का दाह संस्कार करने से मना कर देने से पुलिस प्रशासन के हाथ पांव फूल गए पूरी रात करीब 12 घंटे के मान मनौवल के पश्चात शव का दाह संस्कार करने के लिए परिजन हुए राजी। उक्त गांव निवासी शिव कुमार शुक्ला के 15 वर्षीय पुत्र दुर्गेश शुक्ला को गत सोमवार को गांव के ही जितेंद्र सिंह के बच्चों से आपसी कहासुनी को लेकर उलाहना देने गये दुर्गेश शुक्ला के परिजनों के बीच मारपीट के दौरान आरोपियों द्धारा लाठी-डंडों से मारपीट कर मरणासन्न अवस्था में छोड़ दिए थे जिसमें दुर्गेश का इलाज वाराणसी स्थित ट्रामा सेंटर में चल रहा था। जहां शुक्रवार को पांचवे दिन उसकी मौत हो गई। परिजन देर रात शव लेकर घर पहुंचे। और तब तक अंतिम संस्कार न करने की चेतावनी दी जब तक आरोपितों की गिरफ्तारी और आरोपियों के उपर हत्या का मुकदमा दर्ज कर एफआईआर की प्रति नहीं दी जाएगी और उनके खिलाफ कठोर कार्यवाही सुनिश्चित नहीं की जाती। सूचना पर  शुक्रवार की रात में  पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार पीड़ितों के बीच पहुंचे और उन्हें न्याय का पूरा भरोसा दिलाया साथ ही आरोपियों के घर तक जाकर निरीक्षण भी किया था लेकिन सभी आरोपी फरार हो गए थे घर पर एक महिला एवं दरवाजे पर बधे जानवर ही थे उन्होंने तत्काल आरोपियों की गिरफ्तारी वह विधिक कार्रवाई का निर्देश अधीनस्थ कर्मचारियों को दिया। शनिवार सुबह मौके पर एक बार फिर क्षेत्राधिकारी  जितेंद्र दुबे मौके पर पहुंचे और ुपीड़ितों को आश्वासन दिया कि आरोपितों को  बख्शा नहीं जाएगा साथ ही   दर्ज मुकदमे में 304 आईपीसी का मुकदमा तरमीन करने के प्रति मिलने के बाद परिजन लाश का अंतिम संस्कार करने को तैयार हुए बहरहाल सुरक्षा की दृष्टि से स्थानीय थाने के कुछ सिपाही समेत डेढ़ सेक्शन पीएसी गांव में तैनात कर दी गई है


Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)