अपहरण और रंगदारी के मामले में पूर्व सांसद धनन्जय सिह गिरफ्तार

कौटिल्य वार्ता
By -
0

अपहरण और रंगदारी के मामले में पूर्व सांसद धनंजय सिंह गिरफ्तार
मनोज श्रीवास्तव/लखनऊ। पूर्वांचल के बाहुबली नेता और पूर्व सांसद धनंजय सिंह एक फिर चर्चा में आ गया हैं।  जौनपुर से पूर्व सांसद धनंजय सिंह को रविवार देर शाम पुलिस ने उसके आवास से गिरफ्तार किया है।आपराधिक छवि वाले धनंजय सिंह पर जल निगम के प्रोजेक्ट मैनेजर का अपहरण करने और उन्‍हें धमकी देने का आरोप है। पुलिस ने इसी मामले में कार्रवाई की है।इस मामले में पचहटिया स्थित जल निगम के प्रोजेक्ट मैनेजर अभिनव सिंघल ने लाइन बाजार थाने में पूर्व सांसद धनंजय सिंह के खिलाफ तहरीर देकर अपहरण और धमकी देने का मामला दर्ज कराया है।इसके बाद पुलिस ने पूर्व सांसद धनंजय सिंह को भारी पुलिस बल के साथ आवास से गिरफ्तार कर लिया। बता दें कि धनंजय 27 साल की उम्र में साल 2002 में रारी (अब मल्हनी) विधानसभा सीट से निर्दलीय चुनाव जीतकर सबको चौंका दिया था। वह दोबारा इसी सीट पर जदयू के टिकट से जीता। फिर धनंजय सिंह बसपा में शामिल हो गया।वर्ष 2009 में वह बसपा के टिकट पर जीत दर्ज कर जौनपुर से सांसद बन गया। इससे पहले तीन दशक तक जौनपुर की लोकसभा सीट से बसपा नहीं जीत पाई थी।धनंजय सिंह को बसपा सुप्रमो मायावती ने साल 2011 में पार्टी से निकाल दिया था। बसपा से अलग होने के बाद भी धनंजय सिंह अपने समर्थकों के दम पर राजनीति और जरायम में खुद को असरदार बनाए रखा। जौनपुर से वर्ष 2014 में निर्दलीय लोकसभा चुनाव लड़ा किन्तु पराजित हुआ।साल 2017 में धनंजय सिंह मल्हनी सीट से निषाद पार्टी के बैनर से विधानसभा चुनाव लड़े था, तब उसे दूसरे स्थान पर संतोष करना पड़ा था। हालांकि, निर्दलीय लड़ने से हिम्मत छोड़ चुके धनंजय ने  2019 राजनैतिक दलों के बहुत चक्कर काटे लेकिन किसी भी दल में जुगाड़ नहीं लग पाया इसके बाद वह लोकसभा चुनाव वह नहीं लड़ पाया।


Post a Comment

0Comments

Post a Comment (0)