गोरखपुर में बिजली परियोजनाओं हेतु मुख्यमंत्री ने की 216 करोड़ की घोषणा !

 


गोरखपुर 07 नवम्बर, उत्तरप्रदेश


प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद की बिजली व्यवस्था को और सुदृढ़ करने के लिए लखनऊ से रू0 215.77 करोड़ की योजनाओं का वर्चुअल लोकर्पण/शिलान्यास किया जिसमें 19.78 करोड़ की लागत से 06 कार्यों का लोकार्पण तथा रू0 94.75 करोड़ के कुल 07 कार्यों का शिलान्यास किया। इसके अतिरिक्त रू0 108.52 करोड़ की 04 परियोजनाओं को प्रस्तावित किया गया तथा मुख्यमंत्री ने जनपद के जन प्रतिनिधयों सांसद/विधायक गणों से वार्ता की। जन प्रतिनिधि गणों द्वारा मुख्यमंत्री जी को जनपद को दीपावली से पूर्व दिये गये इस सौगात के लिए अपनी हार्दिक शुभकामनाएं दी। शहर में 15 जगहों/मुहल्लों में लोकार्पण/शिलान्यास आयोजित किया गया।


मुख्यमंत्री ने गोरखपुर महानगर/जनपद के अन्तर्गत विद्युत प्रणाली के सुदृढ़ीकरण हेतु लोकार्पण/शिलान्यास कार्यक्रम के प्रति अपनी शुभकामनाएं देते हुए कहा कि इससे बिजली व्यवस्था में आमूलचूक परिवर्तन होगा तथा लो वोल्टेज की समस्या से निजात मिलेगी और सुचारू रूप से बिजली उपलब्ध होगी।


मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में पौने दो लाख गांव और मजरों का सफलता पूर्वक विद्युतीकरण सम्पन्न किया गया तथा 01 करोड़ 24 लाख से अधिक गरीब परिवारों के घरों में बिजली पहुंची है, विद्युत की निर्वाध आपूर्ति प्रदेश को प्राप्त हो रही है। उन्होंने कहा कि यदि दृष्टिकोण समारात्मक हो तो कोई भी कार्य असम्भव नही है। सकारात्मक दृष्टिकोण का ही परिणाम है कि आज निर्वाध गति से प्रदेश को विद्युत प्राप्त हो रही है। ढीले तारों एवं जर्जर पोलों को बदलने का कार्य किया जा रहा है जिससे बांस बल्ली एवं जर्जर तारों की समस्या से स्थायी छुटकारा मिलेगा। उन्होंने बताया कि सरकार का ध्यान सभी के प्रति है और आम जन को हर सुविधा उपलब्ध कराने के लिए कार्य किया जा रहा है।


मुख्यमंत्री ने कहा कि लाकडाउन के दौरान भी प्रदेश के अन्दर कार्य बन्द नही था और कोरोना काल में भी अनवरत विद्युत आपूर्ति उपलब्ध करायी गयी है। प्रदेश में तेजी के साथ परिवर्तन दिख रहा है और उसी के तहत लोकार्पण/शिलान्यास के कार्य आयोजित किये गये, सभी कार्य समयबद्ध ढंग से एवं गुणवत्ता एवं मानक के अनुरूप पूर्ण किया जायेगा। विकास के माध्यम से  परिवर्तन लाया जा सकता है। प्रदेश में साढ़े तीन लाख नौजवानों को नौकरी दी गयी है, निवेश हर क्षेत्र में दिख रहा है जिससे रोजगार एवं विकास की सम्भावनाएं बढ़ी है।


पूर्वान्चल एक्सप्रेस वे, बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस वे, गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के निर्माण कार्यों के साथ ही गंगा एक्सप्रेस वे प्रस्तावित किया गया है। प्रदेश में 07 एयरपोर्ट क्रियाशील है, एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट प्रदेश में बन रहा है और सड़को का जाल बिछाया जा रहा है। जनपद मुख्यालय को फोरलेन से जोड़ा जा रहा है। आम जन को परेशानी न हो तथा विकास का पहिया थमने न पाये इसके लिए निरन्तर कार्य किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन को निर्देश दिये कि प्रस्तावित परियोजनाओं के लिए जमीन की उपलब्धता सुनिश्चित कराये ताकि कार्य प्रारम्भ हो सके।


इस अवसर पर जनपद से महापौर सीताराम जायसवाल, सांसद रविकिशन, विधायक विपिन सिंह, संत प्रसाद, शीतल पाण्डेय, क्षेत्रीय अध्यक्ष डा0 धर्मेन्द्र सिंह, जिलाध्यक्ष युधिष्ठिर सिंह, इंजीनियर पी0के0 मल्ल सहित विभिन्न जन प्रतिनधि गण जुड़े रहे।


 


Comments
Popular posts
ॐ नमो ब्रह्मनदेवाय गो ब्राह्मण हिताय च!
बिना बी एस सी बीएड के 17 वर्ष की अल्पायु में शिक्षक और अब पेंशन भी जारी बस्ती शिक्षा विभाग का बड़ाखेल!
सरकार को कानून व्यवस्था का दंभ, अपराधियों ने किया नाक में दम! लखनऊ में 7 साल की मासूम से अगवा कर दरिंदगी; 1 आरोपी गिरफ्तार, दूसरा फरार! हाईकोर्ट के पास सरेराह चौराहे पर महिला वकील की मोबाइल छीन लुटेरा फरार छात्रों के दो गुटों में संघर्ष, एक की मौत!
Image
नहर में ट्रैक्टर गिरने से दो की मौत
Image
अब मुख्तार के दो बेटों पर भी 25-25हजार के इनाम घोषित!