कोरोना काल दाल सौ से ऊपर जाने को बेताब!

कोरोना काल में दाल की कीमत आसमान पर


जौनपुर। जनपद में जहां कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। वहीं दूसरी ओर मंहगाई ने आम जन मानस की कमर तोड़ने का काम किया है। इन दिनों दालों के दाम सांतवे आसमान पर पहुंच गए हैं। लगभग प्रत्येक दाल में 20 फीसद तक की बढ़ोत्तरी हुई है। जिस कारण ग्राहक बाजार जाने से कतराते नजर आ रहे हैं। कोरोना संक्रमण के चलते कई लोग बेरोजगार हो गए हैं, ऐसे में बाजार में अभी भी सन्नाटा पसरा हुआ है। मार्च माह से शुरू हुए कोरोना संक्रमण ने आम जनता के लिए परेशानियों का पिटारा लेकर आया है। लॉकडाउन में कई गैर जनपद में नौकरी करने वाले बेरोजगार हुए हैं।


ऐसे में वह अपने घर वापस लौटे तो अब उन्हें दो जून की रोटी भी नसीब होना मुश्किल नजर आ रहा है। क्योंकि अधिकतर घरों में दाल का अधिक प्रयोग किया जाता है, लेकिन इन दिनों सभी दालों के दाम सांतवे आसमान पर पहुंच गए हैं। सब्जी अगर मंहगी होती है तो लोग दाल का ज्यादा प्रयोग करते हैं। मंहगाई के दौर में अब लोगों की थाली से दाल भी गायब होती नजर आ रही है।


इस कारण बाजार में भी सन्नाटा पसरा नजर आता है। व्यापारी सन्तोष गुप्ता का कहना है कि कोरोना संक्रमण के बाद हर दाल के दाम बढ़े गए हैं, पहले जहां लोग पांच-पांच किलो दाल खरीदते थे। अब वह एक व दो किलो दाल लेकर काम चला रहे हैं। लॉकडाउन में वैसे ही व्यापार पूरी तरह चैपट हो गया है। अब मंहगाई के कारण ग्राहक कम आ रहे हैं। बाजार में अरहर की दाल 80 से 100, चना की दाल  60-70, मूंग की दाल 100 से110,  उर्द की दाल 80 से 100 तक जा चुकी है.


Comments